Asia Cup 2018: फाइनल से पहले मुर्तजा ने बताई परेशानी, कहा-शाकिब-तमीम की कमी खलेगी

loading…


एशिया कप के फाइनल से पहले बांग्लादेश के कप्तान मशरेफी मुर्तजा ने कहा कि उनकी टीम को बल्लेबाजी और गेंदबाजी में सुधार करने की जरूरत है.

अबुधाबी: एशिया कप के फाइनल में भारत और बांग्लादेश के बीच शुक्रवार को महामुकाबला होने जा रहा है. मैच  से पहले बांग्लादेश के कप्तान मशरेफी मुर्तजा ने कहा कि अगर उनकी टीम को शुक्रवार को एशिया कप फाइनल में टीम इंडिया को चुनौती देनी है तो उसे सभी विभागों में सुधार करना होगा. बांग्लादेश ने बुधवार को सुपर चार मैच में पाकिस्तान को 37 रन से हराकर फाइनल में जगह बनाई. इस मैच में बांग्लादेश के प्रमुख खिलाड़ी शाकिब उल हसन चोटिल हो गए थे. अब वे टीम इंडिया के खिलाफ नहीं खेल पाएंगे.

मुर्तजा ने कहा, ‘‘हम सभी जानते हैं कि भारत काफी मजबूत और दुनिया में नंबर एक टीम है. हमें अब भी अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी में थोड़ा सुधार करने की जरूरत है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमें शाकिब (अल हसन) और तमीम (इकबाल) की कमी खलेगी लेकिन बाकी खिलाड़ियों ने अपना जज्बा दिखाया. अब जबकि एक मैच बचा है तब उम्मीद है कि खिलाड़ी दमदार खेल का प्रदर्शन करेंगे.’’ शाकिब उंगली में चोट के कारण स्वदेश लौट गए हैं जबकि तमीम शुरुआती मैच में चोटिल होने के कारण एशिया कप से बाहर हो गए थे.

पाकिस्तान पर जीत की यह वजह
मुर्तजा ने पाकिस्तान पर अपनी जीत के बारे में कहा, ‘‘गेंदबाजों ने अपनी भूमिका अच्छी तरह से निभाई विशेषकर तब जबकि हमने बहुत बड़ा स्कोर नहीं बनाया था. हमने अपनी रणनीति में थोड़ा बदलाव किया. अमूमन मैं गेंदबाजी का आगाज करता हूं लेकिन इस मैच में (मेहदी हसन) मिराज ने गेंदबाजी की शुरुआत की.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुशी (मुशफिकुर रहीम) और (मोहम्मद) मिथुन ने बहुत अच्छी बल्लेबाजी की.’’

पाकिस्तान के कप्तान ने ली हार की खुद जिम्मेदारी
वहीं पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने हार की जिम्मेदारी खुद ली. उन्होंने कहा, ‘‘अच्छा महसूस नहीं कर रहा हूं. हमारा प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा. मैंने अच्छा खेल नहीं दिखाया. इसलिए मुझे लगता है कि एक टीम और कप्तान के तौर पर मैंने अच्छी तरह से अगुवाई नहीं की.’’ सरफराज ने कहा, ‘‘हमारा क्षेत्ररक्षण अच्छा नहीं रहा. हमारी बल्लेबाजी बिखर गयी और एक टीम के रूप में हम किसी भी विभाग में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए.’’

उल्लेखनीय है कि रिकॉर्ड के मुताबिक टीम इंडिया का पलड़ा भारी है. पिछली बार साल 2016 में दोनों ही टीमें एशिया कप के फाइनल में ही भिड़ी थीं. इसमें बांग्लादेश को 8 विकेट से  हार मिली थी. इसके अलावा इस बार के एशिया कप में भी सुपर-4 के मुकाबले में बांग्लादेश भारत से हार चुकी है. इस मैच में भारत ने बांग्लादेश को 7 विकेट से जीत हासिल की थी. ऐसे में बांग्लादेश के कप्तान मुर्तजा की चिंता काफी हद तक जायज है.

वहीं दूसरी ओर टीम इंडिया ने इस बार एशिया कप में लगातार पहले चार मैच जीते हैं. पांचवा मैच जो टाई हुआ था, उसमें भारत के फॉर्म में चल रहे गेंदबाज और बल्लेबाज नहीं खेले थे. ऐसे मेें उम्मीद की जाए की टीम इंडिया फाइनल मैच जीत जाएगी तो गलत नहीं होगा. इस सब के बावजूद यह भी सच है कि बांग्लादेश की टीम भारत को आसानी से मैच जीतने नहीं देगी.

SOURCE FROM:ZEE NEWS

loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *